UNESCO Creative Cities Network 2021: जाने यूनेस्को‍ की क्रिएटिव सिटी ऑफ नेटवर्क में भारत का कोनसा शहर शामिल हुआ, देखें नए शहरों की लिस्ट

 UNESCO Creative Cities Network 2021: यूनेस्को‍ की क्रिएटिव सिटी ऑफ नेटवर्क में श्रीनगर की लोक और शिल्‍प कला के बारे में उल्‍लेख किया है| इससे श्रीनगर की सांस्‍कृतिक विविधता को भी एक नई पहचान मिली है|

UNESCO Creative Cities Network 2021: हाल ही मे, जम्‍मू-कश्‍मीर की राजधानी श्रीनगर को यूनेस्‍को की क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क में शामिल किया गया है| इस नेटवर्क में 90 देशों के 295 शहर शामिल हैं| श्रीनगर को शिल्प और लोक कला श्रेणी के तहत यूनेस्को की सूची में शामिल किया गया है|  प्रधानमंत्री मोदी ने भी इस मौके पर ट्वीट कर खुशी जताई| प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा "ये काफी खुशी की बात है कि सुंदर श्रीनगर यूनेस्‍को की क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क में शामिल हो गया है| यूनेस्‍को ने श्रीनगर की लोक और शिल्‍प कला के बारे में उल्‍लेख किया है| इससे श्रीनगर की सांस्‍कृतिक विविधता को भी एक नई पहचान मिली है| जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों को बहुत बहुत बधाई|  वर्ष 2015 में जयपुर को शिल्प और लोक कला के लिए, ओर वर्ष 2015 और 2017 में क्रमशः वाराणसी और चेन्नई को संगीत का रचनात्मक शहर के तोर पर शहरों के लिए यूसीसीएन के सदस्यों के रूप में मान्यता दी| जबकि इस सूची में मुंबई और हैदराबाद को अक्टूबर 2019 में शामिल किया गया था|


UNESCO Creative Cities Network 2021: हाल ही मे, जम्‍मू-कश्‍मीर की राजधानी श्रीनगर को यूनेस्‍को की क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क में शामिल किया गया है| इस नेटवर्क में 90 देशों के 295 शहर शामिल हैं| श्रीनगर को शिल्प और लोक कला श्रेणी के तहत यूनेस्को की सूची में शामिल किया गया है|


प्रधानमंत्री मोदी ने भी इस मौके पर ट्वीट कर खुशी जताई| प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा "ये काफी खुशी की बात है कि सुंदर श्रीनगर यूनेस्‍को की क्रिएटिव सिटीज नेटवर्क में शामिल हो गया है| यूनेस्‍को ने श्रीनगर की लोक और शिल्‍प कला के बारे में उल्‍लेख किया है| इससे श्रीनगर की सांस्‍कृतिक विविधता को भी एक नई पहचान मिली है| जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों को बहुत बहुत बधाई|


वर्ष 2015 में जयपुर को शिल्प और लोक कला के लिए, ओर वर्ष 2015 और 2017 में क्रमशः वाराणसी और चेन्नई को संगीत का रचनात्मक शहर के तोर पर शहरों के लिए यूसीसीएन के सदस्यों के रूप में मान्यता दी| जबकि इस सूची में मुंबई और हैदराबाद को अक्टूबर 2019 में शामिल किया गया था| 


Find More Latest News

Post a Comment

Thanks For Visiting...Keep learning...!

Previous Post Next Post