Teachers Day 2021: 5 सितंबर को क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस, जानें इसका इतिहास और महत्व

Teachers Day 2021 in India: भारत में हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है| छात्रों के पास इस दिन शिक्षक के परिश्रमों, उनके विजन और लगन का धन्यवाद करने का मौका होता है|

Teachers Day 2021: 5 सितंबर को क्यों मनाया जाता है शिक्षक दिवस, जानें इसका इतिहास और महत्व


Teachers Day 2021: भारत में प्रति वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप मे मनाया जाता है| एक छात्र के जीवन में उसके शिक्षक की भूमिका बहुत अहम होती है| भारत में शिक्षक को माता-पिता के बराबर का स्थान दिया जाता है| अपने स्टूडेंट की जिंदगी को सही रास्ता दिखाने वाले टीचर्स को सम्मान और आदर देने के लिए इस दिन को सेलिब्रेट किया जाता है| भारत में शिक्षक दिवस डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती मनाने के लिए मनाया जाता है, जो भारत के पहले उपराष्ट्रपति और भारत के दूसरे राष्ट्रपति और दिल से एक शिक्षाविद थे|


टीचर्स डे का इतिहास: भारत में शिक्षक दिवस भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है| भूतपूर्व राष्ट्रपति का जन्म 5 सितंबर 1888 को तमिलनाडु के तिरुमनी में हुआ था| जब डॉ.राधाकृष्णन भारत के राष्ट्रपति बने तो उनके कुछ छात्र और दोस्त उनसे मिलने पहुंचे और उनसे अनुरोध किया कि उनका जन्मदिन मनाने की इजाजत दें| तब उन्होंने कहा मेरे जन्मदिन को अलग-अलग मनाने के जगह इसे शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो यह मेरे लिए गौरवपूर्ण होगा|  


शिक्षक दिवस का महत्व: एक छात्र के जीवन में शिक्षक दिवस या टीचर्स के का महत्व बहुत है क्योंकि शिक्षक छात्र को सही भविष्य और सही रास्ते पर चलना सिखाता है| वह छात्र को अच्छे गलत की समझ सिखाते हैं| ऐसे में छात्र के पास इस दिन शिक्षक के इन परिश्रमों का धन्यवाद करने का मौका होता है| इसलिए यह दिन सभी छात्रों के लिए बेहत खास माना जाता है|


In English:-  Teachers Day 2021: Why Teacher's Day is celebrated on 5th September, know its history and importance


Find More Important Days News

Post a Comment

Thanks For Visiting...Keep learning...!

Previous Post Next Post