Armed forces launch operation 'CO-JEET' for mental health for COVID patients

Armed forces launch operation "CO-JEET" for mental health of COVID patients


Recently, the Armed Forces have commenced operation "CO-JEET" to strengthen the medical system in India and to aid anti-COVID-19 efforts, like oxygen supply chains. Along with these, CO-JEET will prove to be effective in ensuring the mental health of the people.


However, in addition to medical therapy, patients need the assurance that "they will recover" and over time primarily they need to regain confidence and courage.


Kanitkar, deputy chief of the Integrated Defense Staff (Medical) of the Armed Forces, is the third woman to become a three-star general in the armed forces. Vice Admiral Dr. Punita Arora and Air Marshal Padmavati Bandopadhyay are the first and second.


Click Here to Topic-wise Study


हाल ही में सशस्त्र बलों ने भारत में चिकित्सा प्रणाली को मजबूत करने और ऑक्सीजन आपूर्ति श्रृंखलाओं की तरह, एंटी-कोविड -19 प्रयासों की सहायता के लिए ऑपरेशन "CO-JEET" शुरू किया है। ​इनके साथ-साथ, CO-JEET लोगों की मानसिक स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने कारगर साबित होगा। 

हालंकि मेडिकल थेरेपी के अलावा, रोगियों को इस आश्वासन की आवश्यकता होती है कि "वे ठीक हो जाएंगे" और समय के साथ मुख्य रूप से उन्हें आत्मविश्वास और साहस वापस पाने की आवश्यकता होती है। 


सशस्त्र बलों के एकीकृत रक्षा स्टाफ (मेडिकल) की डिप्टी चीफ कानिटकर सशस्त्र बलों में थ्री स्टार जनरल बनने वाली तीसरी महिला हैं. वाइस एडमिरल डॉ. पुनीता अरोड़ा और एयर मार्शल पद्मावती बंदोपाध्याय पहली और दूसरी हैं।


Join Our Telegram Channel

Post a Comment

Thanks For Visiting...Keep learning...!

Previous Post Next Post