Gandhi Peace Prize 2020: Who has got it

   The Gandhi Peace Prize for the year 2020 is being conferred on Bangabandhu Sheikh Mujibur Rahman, the culture ministry said on Monday.


Gandhi Peace Prize 2020


 Recently, the Ministry of Culture has announced the Gandhi Peace Awards of the year 2019 and 2020 on 22 March 2021. This annual award is given to individuals and institutions for their contribution to political, social, and economic change through non-violence and other Gandhian ideals. It consists of a crore of rupees in cash, a plaque, and a citation.


The Gandhi Peace Prize for the year 2020 will be given to Bangabandhu Sheikh Mujibur Rahman, father of Bangladesh. The Ministry of Culture reported that the Gandhi Peace Prize of the year 2019 was conferred on the (late) Sultan of Qaboos bin Said Al Said, to strengthen his relations with India and to recognize his efforts to promote peace and non-violence in the Gulf region. 


Gandhi Peace Prize is an annual award instituted by the Government of India to commemorate the 125th birth anniversary of Mahatma Gandhi in the year 1995. This award is given to all persons irrespective of nationality, race, language, caste, creed.


 The jury related to the Gandhi Peace Prize was presided over by Prime Minister Narendra Modi. It consists of two ex-officio members of the jury, the Chief Justice of India, and the leader of the largest opposition party in the Lok Sabha.


Click Here Topic Wise Study


(हाल ही में, संस्कृति मंत्रालय ने 22 मार्च 2021 को वर्ष 2019 और 2020 के गांधी शांति पुरस्कारों की घोषणा की है | यह वार्षिक पुरस्कार व्यक्तियों और संस्थानों को अहिंसा और अन्य गांधीवादी आदर्शों के माध्यम से राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन में उनके योगदान हेतु दिया जाता है| इसमें एक करोड़ रुपये नकद राशी, एक पट्टिका और एक प्रशस्ति पत्र शामिल है|) 


(वर्ष 2020 के लिए गांधी शांति पुरस्कार बांग्लादेश के राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान को दिया जाएगा | संस्कृति मंत्रालय मंत्रालय ने बताया कि साल 2019 का गांधी शांति पुरस्कार भारत के साथ संबंधों को मजबूत करने और खाड़ी क्षेत्र में शांति तथा अहिंसा को बढ़ावा देने के उनके प्रयासों को मान्यता देने के लिए ओमान के (दिवंगत) सुल्तान काबूस बिन सैद अल सैद को दिया जाएगा |)

 

(गांधी शांति पुरस्कार, वर्ष 1995 में महात्मा गांधी की 125वीं जयंती के उपलक्ष्य में भारत सरकार द्वारा स्थापित किया गया एक वार्षिक पुरस्कार है|  यह पुरस्कार राष्ट्रीयता, नस्ल, भाषा, जाति, पंथ से परे सभी व्यक्तियों को दिया जाता है|) 


 (गांधी शांति पुरस्कार से संबंधित जूरी की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की| इसमें भारत के प्रधान न्यायाधीश एवं लोकसभा में सबसे बड़े विपक्षी दल के नेता जूरी के दो पदेन सदस्य होते हैं|) 


Find More Awards News

Post a Comment

Thanks For Visiting...Keep learning...!

Previous Post Next Post